"कार्य ही पूजा है/कर्मण्येव अधिकारस्य मा फलेषु कदाचना" दृष्टान्त का पालन होता नहीं,या होने नहीं दिया जाता जो करते हैं उन्हें प्रोत्साहन की जगह तिरस्कार का दंड भुगतना पड़ता है आजीविका के लिए कुछ लोग व्यवसाय, उद्योग, कृषि से जुडे, कुछ सेवारत हैंरेल, रक्षा सभी का दर्द उपलब्धि, तथा परिस्थितियों सहित कार्यक्षेत्र का दर्पण तिलक..(निस्संकोच ब्लॉग पर टिप्पणी/अनुसरण/निशुल्क सदस्यता व yugdarpan पर इमेल/चैट करें, संपर्कसूत्र-तिलक संपादक युगदर्पण 09911111611, 09999777358

बिकाऊ मीडिया -व हमारा भविष्य

: : : क्या आप मानते हैं कि अपराध का महिमामंडन करते अश्लील, नकारात्मक 40 पृष्ठ के रद्दी समाचार; जिन्हे शीर्षक देख रद्दी में डाला जाता है। हमारी सोच, पठनीयता, चरित्र, चिंतन सहित भविष्य को नकारात्मकता देते हैं। फिर उसे केवल इसलिए लिया जाये, कि 40 पृष्ठ की रद्दी से क्रय मूल्य निकल आयेगा ? कभी इसका विचार किया है कि यह सब इस देश या हमारा अपना भविष्य रद्दी करता है? इसका एक ही विकल्प -सार्थक, सटीक, सुघड़, सुस्पष्ट व सकारात्मक राष्ट्रवादी मीडिया, YDMS, आइयें, इस के लिये संकल्प लें: शर्मनिरपेक्ष मैकालेवादी बिकाऊ मीडिया द्वारा समाज को भटकने से रोकें; जागते रहो, जगाते रहो।।: : नकारात्मक मीडिया के सकारात्मक विकल्प का सार्थक संकल्प - (विविध विषयों के 28 ब्लाग, 5 चेनल व अन्य सूत्र) की एक वैश्विक पहचान है। आप चाहें तो आप भी बन सकते हैं, इसके समर्थक, योगदानकर्ता, प्रचारक,Be a member -Supporter, contributor, promotional Team, युगदर्पण मीडिया समूह संपादक - तिलक.धन्यवाद YDMS. 9911111611: :

Monday, February 11, 2013

महा कुंभ कुंप्रबंधन त्रासदी 2013.

महा कुंभ कुंप्रबंध त्रासदी 2013.

कुंभ में पवित्र स्नान के बाद स्टेशन पर कुंप्रबंध त्रासदी में 10 से 20, तीर्थयात्री मारे गए 

आज रात यहाँ महा कुंभ के 12 वर्षीय चक्र में सबसे शुभ दिन एक 'मौनी अमावस्या', के तीन करोड़ से अधिक लोगों को पवित्र स्नान के बाद, हजारों तीर्थयात्रियों के लौटने के साथ; इलाहाबाद रेलवे स्टेशन पर भगदड़ में कम से कम 36 लोग मारे गए और कई दुर्घटना में घायल हो गए थे
मंडल रेल प्रबंधक हरिंदर राव के अनुसार, जब प्लेटफार्म 5 और 6 की भीड़ को व्यवस्थित करने हेतु पंक्तिबद्द करने 7 बजे में भगदड़ हुई। जबकि प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि लाठीचार्ज  शुरू हो गया था, जो त्रासदी के घटक थे। जिसमे 10 लोग मारे गए और कई दुर्घटना में घायल हो गए थे बाद में संख्या 36 तक पहुच गई।
प्रत्यक्षदर्शियों ने दावा किया कि पुलिस ने लाठीचार्ज किया गया था किन्तु राव ने कहा कि जब यात्रियों को एक लाइन में खड़ा किया जा रहा था कि भीड़ को नियंत्रण में लाने के बीच घटना हो गई फुट ओवर ब्रिज के लिए अग्रणी रेलिंग ध्वस्त हुआ   
उन्होंने कहा यह भी कि यात्रियों अटर एक ट्रेन के आगमन के बारे में सार्वजनिक उद्घोषणा प्रणाली पर एक सूचना के पश्चात् एक अचानक उछाल था। घायलों को विभिन्न अस्पतालों में ले जाया गया है
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह त्रासदी में जीवन के नुकसान पर शोक जताया और रेलवे मंत्रालय को हर संभव सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है । सिंह ने केंद्रीय सरकार के विभागों का भी राहत कार्यों में उत्तर प्रदेश सरकार को हर संभव सहायता का विस्तार.करने के लिए निर्देशन दिए है 
हम जो भी कार्य करते हैं, परिवार/काम धंधे के लिए करते हैं | देश की बिगडती दशा व दिशा की ओर कोई नहीं देखता | आओ मिलकर इसे बनायें; -तिलक