"कार्य ही पूजा है/कर्मण्येव अधिकारस्य मा फलेषु कदाचना" दृष्टान्त का पालन होता नहीं,या होने नहीं दिया जाता जो करते हैं उन्हें प्रोत्साहन की जगह तिरस्कार का दंड भुगतना पड़ता है आजीविका के लिए कुछ लोग व्यवसाय, उद्योग, कृषि से जुडे, कुछ सेवारत हैंरेल, रक्षा सभी का दर्द उपलब्धि, तथा परिस्थितियों सहित कार्यक्षेत्र का दर्पण तिलक..(निस्संकोच ब्लॉग पर टिप्पणी/अनुसरण/निशुल्क सदस्यता व yugdarpan पर इमेल/चैट करें, संपर्कसूत्र-तिलक संपादक युगदर्पण 09911111611, 09999777358

बिकाऊ मीडिया -व हमारा भविष्य

: : : क्या आप मानते हैं कि अपराध का महिमामंडन करते अश्लील, नकारात्मक 40 पृष्ठ के रद्दी समाचार; जिन्हे शीर्षक देख रद्दी में डाला जाता है। हमारी सोच, पठनीयता, चरित्र, चिंतन सहित भविष्य को नकारात्मकता देते हैं। फिर उसे केवल इसलिए लिया जाये, कि 40 पृष्ठ की रद्दी से क्रय मूल्य निकल आयेगा ? कभी इसका विचार किया है कि यह सब इस देश या हमारा अपना भविष्य रद्दी करता है? इसका एक ही विकल्प -सार्थक, सटीक, सुघड़, सुस्पष्ट व सकारात्मक राष्ट्रवादी मीडिया, YDMS, आइयें, इस के लिये संकल्प लें: शर्मनिरपेक्ष मैकालेवादी बिकाऊ मीडिया द्वारा समाज को भटकने से रोकें; जागते रहो, जगाते रहो।।: : नकारात्मक मीडिया के सकारात्मक विकल्प का सार्थक संकल्प - (विविध विषयों के 28 ब्लाग, 5 चेनल व अन्य सूत्र) की एक वैश्विक पहचान है। आप चाहें तो आप भी बन सकते हैं, इसके समर्थक, योगदानकर्ता, प्रचारक,Be a member -Supporter, contributor, promotional Team, युगदर्पण मीडिया समूह संपादक - तिलक.धन्यवाद YDMS. 9911111611: :
Showing posts with label नीति. Show all posts
Showing posts with label नीति. Show all posts

Sunday, February 23, 2014

चीन को चेतावनी, देश को टूटने नहीं दूंगा,

चीन को चेतावनी, देश को टूटने नहीं दूंगा,अरुणाचल के कबीले से जुड़े मोदी 

पासीघाट (अरुणाचल), 22 फर (हि.स.)। भाजपा के प्रधानमंत्री पद के घोषित प्रत्याशी व गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज शनिवार को पूर्वोत्तर में अपनी तीसरी चुनावी सभा को अरुणाचल प्रदेश के पासीघाट में संबोधित करते हुए प्रथम बार जहां चीन को चेतावनी दी, वहीँ कांग्रेस पर भी जमकर निशाना साधा।  

विदेश नीति के मुद्दे पर अपना पक्ष दोहराते हुए, भाजपा के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नरेन्द्र मोदी ने, आज चीन से अपनी ‘विस्तारवादी मानसिकता’ को छोड़ने को कहा, साथ ही यह स्पष्ट किया, कि विश्व की कोई शक्ति भारत से अरुणाचल प्रदेश को नहीं छीन सकती। चीन को अपनी विस्तारवादी नीति को छोड़ने की चेतावनी देते हुए मोदी ने, चुनाव प्रचार के मध्य यहां एक सभा में कहा, ‘‘अरुणाचल प्रदेश भारत का अभिन्न अंग है और सदा बना रहेगा। अरुणाचल प्रदेश के लोगों को चीन के दबाव या भय में नहीं आना चाहिए।’’ 

सियांग नदी के पास आयोजित सभा को संबोधित करते उन्होंने कहा, ‘‘दोनों देशों की शांति, प्रगति और समृद्धि के लिए द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देना चाहिए।’’ मोदी ने कहा, "मैं इस मिट्टी की शपथ लेता हूं, कि मैं राज्य को न तो समाप्त होने दूंगा और न ही टूटने या झुकने दूंगा।’’

मोदी ने यहां विजय संकल्प अभियान रैली को संबोधित करते हुए कहा, "इस कबीले और मेरे पूर्वजों में अवश्य कोई संबंध रहा होगा क्योंकि हमारे उपनाम एक समान हैं।’’ उन्होंने कहा, "आदि जनजाति के मोदी कबीले की जनसँख्या प्राय: 7000 है और इनका गुजरात के मोदियों से अवश्य कोई संबंध होगा। यदि कोई इतिहास में जाए, तब यह स्थापित किया जा सकता है।’’ इस पर मोदी कबीले के आदि जनजाति के सदस्यों को आज गर्व का अनुभव हो रहा होगा। उन्होंने कहा, "द्वारका (गुजरात) के भगवान कृष्ण ने अरुणाचल की रूक्मिणी से विवाह कया था। इस तरह से गुजरात और अरुणाचल का 5000 वर्ष पुराना नाता है।’’ मोदी ने कहा कि अरुणाचल में सबसे पहले सूर्य उगता है और गुजरात में सबसे अंत में अस्त होता है। अब सूर्य उदय से अस्त तक रहेगा, मोदी के देश का। 

जब नकारात्मक बिकाऊ मीडिया जनता को भ्रमित करे, तब पायें 

नकारात्मक बिकाऊ मीडिया का सकारात्मक राष्ट्रवादी व्यापक सार्थक विकल्प, 
युगदर्पण मीडिया समूह YDMS.
यदि आप भी मुझसे जुड़ना चाहते हैं, तो आपका हार्दिक स्वागत है, संपर्क करें औऱ अपने सम्पर्क सूत्र सहित बताएं, कि आप किस प्रकार व किस स्तर पर कार्य करना चाहते हैं, तथा कितना समय देना चाहते हैं ? आपका आभार अग्रेषित है।

Yug Darpan Media Samooh YDMS যুগদর্পণ, યુગદર્પણ  ਯੁਗਦਰ੍ਪਣ, யுகதர்பண  യുഗദര്പണ  యుగదర్పణ  ಯುಗದರ್ಪಣ,

http://aajkimahaabhaaratdarpan.blogspot.in/2014/02/blog-post_23.html
Media For Nation First & last. राष्ट्र प्रथम से अंतिम, आधारित मीडिया YDMS
नकारात्मक मीडिया के सकारात्मक व्यापक विकल्प का सार्थक संकल्प
-युगदर्पण मीडिया समूह YDMS- तिलक संपादक
हम जो भी कार्य करते हैं, परिवार/काम धंधे के लिए करते हैं | देश की बिगडती दशा व दिशा की ओर कोई नहीं देखता | आओ मिलकर इसे बनायें; -तिलक